Posts

Showing posts from March, 2015

शंभु का संवाद: 'दोस्ती के 25 साल... और परिवार बढ़ता गया' -III

शंभु का संवाद: 'दोस्ती के 25 साल... और परिवार बढ़ता गया' -III: तीसरी कड़ी... दोस्ती के   25   साल Silver Jubilee Year   1990-2015 दूसरी कड़ी से जारी... पिछले 25 साल के इस दोस्ती के सफर में ...

'दोस्ती के 25 साल... और परिवार बढ़ता गया' -III

Image
तीसरी कड़ी...दोस्ती के25सालSilver Jubilee Year1990-2015
दूसरी कड़ी से जारी...
पिछले 25 साल के इस दोस्ती के सफर में मेरे सबसे प्रिय दोस्त गिरि का जिक्र मैंने किया, गिरि से मेरी दोस्ती बिल्कुल कृष्ण-सुदामा वाली रही है, गिरि ने मुझे कभी व्यक्तिगत तौर पर अभाव का एहसास नहीं होने दिया, 


यही गिरि की एक दोस्त के नाते सबसे भावुक करने वाली बात है, जो मुझे आज भी भावुक कर देती है... 
हालांकि वो अभाव जीवन में चलते हुए धीरे-धीरे समाप्त हो गया, लेकिन गिरि से वो वाला नाता कभी खत्म नहीं हुआ...  
आज भी गिरि मेरे लिए किसी अभिभावक से कम नहीं है... मैं चाहता हूं गिरि हमेशा मेरा अभिभावक बना रहे...
इस पड़ाव में कई दोस्त अपनी बड़ी-बड़ी भूमिका के लिए हमेशा जाने जाएंगे, कपिल कपूर-एक अच्छा दोस्त तो साबित हुआ, लेकिन उतना बेहतर मैनेजर साबित इसलिए नहीं हुआ, क्योंकि गिरि से कपिल का झगड़ा उत्तरकाशी आपदा ट्रिप पर एक छोटी सी बात को लेकर हुआ, जिसकों टाला जा सकता था हालांकि उसके 
बाद कपिल कपूर ने खुद को, बीतते गए सालों में बिल्कुल बदल डाला, आज वो भी हमारे सद्भावना वाले कैमिकल के साथ, पूरी मजबूती लिए हुए जुड़ा हुआ है... और ज्य…